Wednesday, May 9, 2012

किरण बेदी भारत की पहली महिला आई.पी.स.है !

लोग कहते है किरण बेदी NGO का खाती है शायद उन लोगो को किरण बेदी का इतिहास नहीं मालुम है भारत की पहली महिला आई.पी.स.है ! अपनी इमानदारी ओर साहस की बजह से अपनी नोकरी के दोरान कितना नुक्सान उठाया था आय दिन तबादले झेले इन्होने .जब इसको सजा के तोर पर ट्राफिक इन्स्पेक्टर बना दिया गया तो इसने नो पार्किंग जोन में खड़ी.. इंदरा गांधी की गाडी को उठा कर चालान कर दिया था जबकि उस दोर में किसी की भी इन्द्रा के सामने बोलने की हिम्मत तक नहीं होती थी .तब फिर इसको सजा के तोर पर मणिपुर भेज दिया गया था उन दिनों मणिपुर के हालत कितने खराब थे ?? इसको कभी प्रमोशन नहीं मिला अपनी इमानदारी के चलते ! यदि ये भ्रष्ट होती तो आज ये भी ओर भ्रष्ट तालुआचात अफसरों की तरह मजे की जिंदगी जी रही होती उसको क्या मतलब होता भारत की जनता से !!

2 comments:

  1. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  2. बिल्कुल ये बात सच है अगर वो भी सभी की तरह भ्रष्ट होती तो आज आराम से बैठकर जिन्दगी के मज़े ले रही होती पर नहीं वो देश कि एक समझदार नागरिक कि तरह देश के हित में काम करती रही और आज भी देश के हित में ही भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ रही है मुझे किरण बेदी के निडरता वाले अंदाज़ पर फक्र है कि वो हमारे देश कि एक जाबांज नारी है

    ReplyDelete